Google Doodle celebrates the birthday of Oscar Sala, the German physicist and pioneer of electronic music who discovered electronic music in the 1930s and 1940s

Google डूडल ने 1930 और 1940 के दशक में इलेक्ट्रॉनिक संगीत की खोज करने वाले इलेक्ट्रॉनिक संगीत के अग्रदूत और जर्मन भौतिक विज्ञानी ऑस्कर साला को मनाया जन्मदिन ।

Google Doodle celebrates the birthday of Oscar Sala, Google का डूडल आज साउंड इंजीनियर, साउंड मिक्सर और इलेक्ट्रॉनिक संगीत के अग्रणी ऑस्कर साला का जश्न मना रहा है, जिन्होंने 1930 के दशक में ‘इलेक्ट्रो-अकॉस्टिक म्यूज़िक’ नामक एक वाद्य ध्वनि बनाने में लेस पॉल और क्लाउड हार्ट के साथ काम किया था।

साला के प्रयोगों ने उन्हें ‘इलेक्ट्रॉनिक संगीत’ बनाने के लिए तीन अभूतपूर्व तरीकों का आविष्कार करने के लिए प्रेरित किया। Google Doodle celebrates the birthday of Oscar Sala

यह जर्मनी में ऑस्कर साला के जन्म की 75वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में Google के डूडल का मुख्य आकर्षण भी बना है।

साला के अग्रणी काम की कहानी, जिसे शुरू में साला और जर्मनी के कई वैज्ञानिकों ने खोजा था, आज भी नवप्रवर्तकों को प्रेरित करती है।

साला ने 1920 के दशक में गॉटिंगेन में फ्रेडरिक-अलेक्जेंडर यूनिवर्सिटी (फ्रेडरिक-यूनिवर्सिटैट) में भौतिकी शिच्छाओं का अध्ययन किया।

इलेक्ट्रॉनिक ध्वनियों में उनकी रुचि 1930 के दशक में शुरू हुई, जब वे एक सहायक के रूप में फर्टवांग्लर में शामिल हुए और इलेक्ट्रॉनिक ध्वनि अग्रणी फ्रांसिस एलन ग्लिक के साथ काम करने के लिए अमेरिका चले गए।

साला ने कोलंबिया पिक्चर्स स्टूडियो में इंजीनियर जॉर्ज ब्रेनर के साथ काम किया, जिन्हें ‘द विजार्ड ऑफ टेक्नीकलर’ के नाम से जाना जाता है।

बाद में, साला 1942 से 1947 तक लेस पॉल और क्लाउड हार्ट के ‘फैबुलस थिएटर ग्रुप’ की सदस्य रहीं।

1940 में साला ने हेनरिक हर्ट्ज़ और हैंस बॉमन के साथ मिलकर इलेक्ट्रॉनिक ध्वनियों की खोज की और ‘पल्स’ नामक ध्वनि तत्व की खोज की।

साला ने बाद में जर्मनी के संगीत परिदृश्य में इलेक्ट्रॉनिक ध्वनि तकनीकों की शुरुआत की, और उनका काम लगभग 30 वर्षों तक जारी रहा।

बाद में वह इंस्टिट्यूट फ्रैंकैस डी इलेक्ट्रिकिट में काम करने के लिए फ्रांस चले गए।

साला फिदेले बेराउड और पॉल हस्लिंगर जैसे जर्मन फिल्म निर्माताओं के साथ भी शामिल थे, जिन्होंने उनके साथ फ्रांसीसी फिल्म ‘डी नुइट ए पेरिस’ के साउंड वर्क पर काम किया था।

साला के काम ने इलेक्ट्रॉनिक संगीत की दृश्य और संगीतमय दुनिया को परिभाषित करने में मदद की।

1949 में, उन्होंने क्वांटम इलेक्ट्रॉनिक्स नामक एक कंपनी की सह-स्थापना की, जो इलेक्ट्रॉनिक संगीत वाद्ययंत्र उत्पादन पर केंद्रित थी।

वह जर्मन संगीतकार, आविष्कारक और रिकॉर्ड निर्माता एमिल हेनिंग के साथ इलेक्ट्रॉनिक अंगों और इलेक्ट्रॉनिक ध्वनि मशीनों का आविष्कार और उत्पादन करने के लिए भी शामिल थे।

इस समय के दौरान, साला ने यूरोपियन फेडरेशन फॉर इलेक्ट्रोअकॉस्टिक म्यूजिक (EFEM) की स्थापना में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई, जिसका उद्देश्य पूरे यूरोप में इलेक्ट्रॉनिक संगीत के प्रसार को बढ़ावा देना है।

आईई ऑनलाइन मीडिया सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड, अधिक संबंधित समाचार Google डूडल ने तीसरा विश्व इंटरनेट सम्मेलन मनाया ।